सर्वर क्या होता है | सर्वर कैसे काम करता हैं

सर्वर क्या होता है  (What is Server in Hindi)

ऐसे उच्च छमता युक्त कंप्यूटर होता है जिनसे डाटा का सर्व किया जाता है यूजर तक तब ऐसे मशीनों को सरवर कहा जाता है यह डाटा को यूजर तक पहुंचाने के लिए यूजर और डाटा सेंटर या होस्टिंग के बीच,ब्रिज का काम करती है

आपका स्वागत है हमारी वेबसाइट पर जहां पर हम विज्ञान तकनीकी पर्यावरण और कंप्यूटर से संबंधित जानकारियां आपको उपलब्ध करवाते हैं

आज की दुनिया में डाटा स्टोरेज डाटा को उतनी ही तीव्र गति से प्राप्त करना मुख्य चुनौती है जिसमें डाटा सर्वर हम बार-बार सुनते हैं तो चलिए आज जानते हैं कि सरवर क्या होता है और सरवर कैसे काम करता है

Server की परिभाषा

सरवर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का बना ऐसा मशीन है जिसके द्वारा यूज़र द्वारा चाही गई जानकारी उससे वेब होस्टिंग या डाटा सेंटर द्वारा इंटरनेट की सहायता से प्रोवाइड करवाई जाती है

सरवर कैसे काम करता हैं

 हम आपको आसान भाषा में समझाते हैं जैसे कि आप गूगल सर्च द्वारा किसी कीवर्ड को सर्च कर रहे हैं तब आप जब उस word को search करते हैं

 तब सर्च इंजन द्वारा वर्ल्ड वाइड वेब पर पर आधारित जानकारी को खोला जाता है

और जब ऑथेंटिक जानकारी गूगल के सर्च क्रॉलर द्वारा

वेब होस्टिंग या डाटा सेंटर से  प्राप्त कर लिया जाता है सब उस जानकारी को वेब सर्वर से होते हुए  वापस आप तक लाया जाता है

यह जो data आपको पहुंचता है यह सरवर द्वारा पहुंचाया जाता है और  सर्च इंजन द्वारा आपके पास data को पहुंचाया जाता है जिसे आप browser द्वारा acess कर पाते हैं 

  आप गूगल का सर्च इंजन याहू का सर्च इंजन माइक्रोसॉफ्ट बिंग जैसे सर्च इंजन का प्रयोग करते हैं इसके अलावा एप्पल का भी सर्च इंजन, सफारी  इसका उपयोग एप्पल मोबाइल वाले करते हैं

इसके बाद आप प्राप्त जानकारी को अपने मोबाइल या कंप्यूटर पर देख सकते हैं यह पढ़ सकते हैं सुन सकते हैं जो उसके डाटा के प्रकार पर आधारित होगा

तो दोस्तों आपको पता चल गया होगा कि डाटा सर्वर कैसे काम करते हैं

सरवर की टेक्नोलॉजी कैसी होती है

जैसे कि हमें आपको बताया कि server हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से मिलकर बना इलेक्ट्रॉनिक मशीन होता है यह हमेशा इंटरनेट सर्विस द्वारा किसी वेब होस्टिंग या डाटा सेंटर द्वारा जुड़ जाते हैं और वहां से प्राप्त जानकारी को अपने तक लाकर node द्वारा डाटा को user तक पहुंचाते हैं

 node वह प्राइम लोकेशन होता है जहां से डाटा रिसीव और सेंड की जाती है

सरवर को हाई computing क्षमता और हाई स्टोरेज क्षमता  युक्त बनाया जाता है क्योंकि लगातार इसके द्वारा डाटा को शेयर और रिसीव किया जाता है इसके लिए सरवर को हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन से जोड़ा जाता है जिससे कि data बहुत तीव्र गति से जब तक पहुंचाई जाए

और भी पढ़े >

सर्वर क्या होता है

दोस्तों हमने इस पोस्ट में आपको बताने को उसकी है कि सर्वर क्या होता है और यह कैसे काम करता है जिसके आधार पर आप समझ गए होंगे कि सरवर एक ब्रिज की जैसी है जो डाटा सेंटर या वेब होस्टिंग से डाटा को आप लोगों तक पहुंच जाता है

जिसके आधार पर हमें आपको बताया वेब सर्वर हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन से जुड़े होते हैं जो डाटा को आप तक पहुंचाते हैं और डाटा ट्रांसफर करने का प्राइम लोकेशन node होता है

उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आए और अन्य प्रकार की जानकारी के लिए आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं

Share this

Leave a Comment

Don`t copy text!