पित्त रस क्या है | पित्त रस का कार्य | पित्तरस कहाँ पाया जाता है?

पित्त रस क्या है ( pitt ras kya hai )

मनुष्यो और दूसरे जीवो में यह हरे रंग का  लीवर द्वारा उत्पादित द्रव पदार्थ है जो पाचन में सहायता करता है पित्त रस कहलाता है , पित्त रस हमारे सरीर में लिवर द्वारा बनाया जाता है

पित्त रस की पूरी जानकारी 

  • पित्त रस पित्त रस लीवर द्वारा उत्पादित हरे रंग का द्रव पदार्थ है जिसका पीएच 7.4 से 7.7 आस पास होता है
  • पित्त रस में लगभग 92 परसेंट जल, 6 परसेंट लवण , पित्त वर्णक .3 पर्सेंट और पित्त अम्ल 0 से .9 परसेंट के बीच पाया जाता है
  • इसके अतिरिक्त इसमें इसके  इसमें कोलेस्ट्रॉल, लिसाईथीन तथा उदासीन fat भी होती है
  • पित्त लवण में सोडियम ,पोटैशियम ,ग्लाइकोलेट ,  पायरू लेट जैसे कार्बनिक लवण पाए जाते हैं यह सभी लवण जल के साथ क्रिया का इमल्शन बना लेते हैं
  • पित्त रस की उपस्थिति के कारण ही आंत में वसा अम्ल और glesarine का अवशोषण होता है इसके अलावा यह लवण, उपस्थित घुलनशील विटामिन ए, विटामिन डी ,विटामिन ई और विटामिन के का अवशोषण करती है
  • पित्त वर्णक बाइल पिगमेंट जैसे बीलीरूबीन और  बिलवर्डिन होते हैं यह वर्णक इंसान में हिमोग्लोबिन ( हिमोग्लोबिन क्या है ) के विघटन से बनते हैं यह शरीर में उत्सर्जी पदार्थ हैं जो मलद्वार बाहर हो जाते हैं इन्हीं के कारण मल का रंग पीला होता है
  • कोलेस्ट्रोल बाइल पिगमेंट में भी कोलेस्ट्रोल पाया जाता है जो शरीर द्वारा उत्सर्जन के द्वारा बाहर हो जाता है शरीर में सबसे ज्यादा कोलेस्ट्रोल भोजन से प्राप्त होता है पित्ताशय में यदि बहुत अधिक मात्रा में कोलेस्ट्रोल का संग्रहण  हो जाता है तब पित्ताशय में पत्थर बन जाता है तब इसे लिवर स्टोन कहा जाता है जिसके कारण लीवर में बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न होती है
  • लिसाईथीन यह एक प्रकार का पदार्थ होता है जो पित्त रस में पाया जाता है किंतु इसका कोई मुख्य कार्य पित्त रस में नहीं होता
  • छारीय फास्फेट इसका निर्माण केवल पित्त कोशिकाओं ( कोशिका क्या है ) द्वारा किया जाता है लेकिन पाचन ( मनुष्य में पाचन )में इसका कोई महत्वपूर्ण योगदान नहीं होता लेकिन जब पित्त रस आंतों में जाने से रुक जाता है तब शरीर में पीलिया रोग हो जाता है इस अवस्था में छारीय फास्फेट रक्त में अधिक मात्रा में पाया जाता है इस प्रकार इसके द्वारा पीलिया रोग का पहचान होता है हम इसे ऐसे भी कह सकते हैं कि इसी की मात्रा के बढ़ने से ही पीलिया रोग होता है
  • इसके अतिरिक्त पित्त रस में कम मात्रा में mucin , nucleo proteins और triglycerides पाए जाते हैं

पित्त स्त्राव का नियंत्रण

  • पित्त लवड़, पित्त को स्त्राव करने के लिए प्रेरित करता है
  • Cholecystokinin जो रक्त में पाया जाता है पित्त रस को स्त्रावित करने के लिए पित्ताशय को संकुचित करता है
  • वेगस तंत्रिका की उत्तेजित  होने से पित्त रस का स्त्रावण होता है

पित्त रस का कार्य क्या है

  • पित्त रस स्वयं पाचन की क्रिया में भाग नहीं लेता किंतु पित्त रस के बिना पाचन असंभव है
  • पित्त रस भोजन के माध्यम को छारीय बनाता है जिससे कि अग्नाशय रस और आंतरिक रस को पाचन में सम्मिलित किया जा सके और उचित माध्यम उपलब्ध कराता है
  • पित्त रस भोजन में उपस्थित बैक्टीरिया को नष्ट करता है
  • पित्त रस में उपस्थित पित्त लवण वसा के अवशोषण में सहायता करती है
  • पित्त रस में उपस्थित पित्त लवण भोजन को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ने में सहायता करते हैं
  • पित्त रस आंत की क्रमाकुंचन गति को बढ़ाने में मदद करती है ( पाचन के प्रकार )
  • पित्त रस में उपस्थित पित्त वर्णक  भोजन को टुकड़ों में बांटकर उत्सर्जन के लिए तैयार करती है

CONCLUSION -पित्त रस क्या है

एक प्रकार का पाचक रस है जो जीवो में पाचन तंत्र में मुख्य भूमिका निभाता है , इस पोस्ट पर मैंने पित्त रस क्या है और पित्त रस कैसे काम करता है के बारे में पूरिजनकारी दी है जैसे PH कितना होता है , कहा से स्त्रावित होता है ,पित्त रस का कार्य कितना है इत्यादि

” पित्त रस क्या है ” के बारे आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कृपया comment box में जरूर क्वेश्चन पूछे हमें आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा, आप हमारे वेबसाइट vigyantk.com पर यू ही आते रहे जहाँ पर हम विज्ञान , प्रोद्योगिकी, पर्यावरण औऱ कंप्यूटर जैसे विषयो पर जानकारी साझा करते है

अन्य भी पढ़े>

FAQ -पित्त रस क्या है

Q पित्त रस का निर्माण होता है

A  लिवर में निर्माण होकर पित्ताशय में स्टोर होता है

Q पित्त रस का कार्य क्या है

A  भोजन का पायसीकरण  करता है 

Qपित्त क्या है

A यह हरे रंग का  लीवर द्वारा उत्पादित द्रव पदार्थ है जो पाचन में सहायता करता है

Q पित्त रस का पीएच मान

A पित्त रस का पीएच 7.4 से 7.7 आस पास होता है

Q पित्तरस कहाँ पाया जाता है?

A लीवर द्वारा उत्पादित द्रव पदार्थ है जो पित्ताशय  में पाया जाता है 

Share this

Leave a Comment

vigyantk.com