ऑर्गेनिक खेती क्या है | जैविक खेती केसी की जाती है | organic farming in hindi

आखिर ऑर्गेनिक खेती क्या है और इसके बारे में आज सभी बात अधिक क्यों करते है और क्यों आवश्यक है,तो जानिए वर्तमान में अधिकांश कृषको द्वारा पूरी तरह से chemical और फ़र्टिलाइज़र पर depend होकर खेती की जाती है जिससे chemical प्लांट्स से होते हुए ह्यूमन और एनिमल के बॉडी में प्रवेश कर जाती है इसके अतिरिक्त पर्यावरण प्रदूषण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है इन सब से बचने का एक ही उपाय है organic farming

organic farming करके पर्यावरण और मनुष्य के हेल्थ को काफी हद तक ठीक किया जा सकता है , विस्तार से जाने आगे

ऑर्गेनिक खेती क्या है ( जैविक खेती क्या है )

जब किसी प्रकार की खाद्य फसल की खेती की जाती है तब उसमें डाले जाने वाला कीटनाशक खाद और पोषक पदार्थ पूरी तरह से ऑर्गेनिक तरीके से बनाए जाते है, तब इस प्रकार की खेती ऑर्गेनिक खेती या जैविक खेती कहलाती है

इसके लिए ऐसे ऑर्गेनिक पदार्थ बनाए जाते हैं जो हमें विषेस पेड़ पौधे से प्राप्त होते हैं इस प्रकार के पेड़ पौधे में एक विशेष प्रकार का गुण होता है जो पोषक पदार्थ या कीटनाशक गुण होता है आमतौर पर आपने देखा होगा कि हमारे ग्रामीण इलाके में कीटनाशक के रूप में नीम का उपयोग किया जाता है यह एक एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरस गुड औषधि पौधे जिसका उपयोग फसलों में इंफेक्शन रोकने के लिए उपयोग में लाया जाता है

इसी प्रकार फसलों को घर में बनाया हुआ खाद भी दिया जाता है जिसमे नाइट्रोजन , कैल्सियम , पोटेसियम जैसे पदार्थ होते है गांव में बनाए जाने वाला गोबर का खाद भी ऑर्गेनिक होता है इसमें पालतू पशु जैसे गाय बैल भैंस का मल होता है इसके अतिरिक्त इसमें अन्य प्रकार के जरुरी तत्व मिलाकर इसका पोषण वैल्यू बढ़ाया जाता है

जैसे की किचन से निकलने वाले वेस्ट और कृषि के उपरांत बचने  वाले वेस्ट  पदार्थ को भी मिलाया जाता है जिससे कि इस गोबर खाद की पोषक वैल्यू बढ़ाई जा सकती है इस प्रकार के ऑर्गेनिक पदार्थों का उपयोग कर फसलों में अधिक उपज लिया जा सकता है और ऑर्गेनिक खेती की जा सकती है

ऑर्गेनिक खेती कैसे की जाती है

ऑर्गेनिक खेती सामान्य खेती की जैसी ही है किंतु उसमें रासायनिक रूप से निर्मित कीटनाशक और खाद्य जैसे पदार्थों का उपयोग नहीं किया जाता इसके लिए प्रकृति में उपलब्ध पेड़ पौधे तथा जीवो से निर्मित पदार्थों का उपयोग कर कीटनाशक,खाद और पोषक पदार्थ बनाए जाते हैं

कौन-कौन से पदार्थ ऑर्गेनिक खेती में उपयोग किए जाते हैं

ऑर्गेनिक खाद-

खेती में उपयोग किए जाने वाला खाद्य सामान्य प्रकार का होता है जैसे कि गोबर की खाद किंतु इसकी पोषक मात्रा बढ़ाई जा सकती है इसके लिए हमें गोबर खाद बनाते वक्त उसमें केंचुआ डालना चाहिए जिससे कि गोबर कापूर्ण अपघटन हो और वह पूरी तरह से खाद बन जाए

 इसके अलावा गोबर में घर से निकली हुई सब्जियों के छिलके और कृषि के उपरांत बचे हुए पौधे के अवशेष को डालकर गोबर में उसकी पोषक मात्रा को बढ़ाया जा सकता है आमतौर पर पौधों के लिए नाइट्रोजन फास्फोरस  पोटेशियम  की आवश्यकता होती है लेकिन गोबर की खाद में इसकी मात्रा कम पाई जाती है इसमें अन्य पदार्थ मिलाकर इनकी मात्रा बढ़ाई जा सकती है

ऑर्गेनिक कीटनाशक

आमतौर पर सभी अपनी फसलों में कीटनाशक उपयोग करते हैं जो कि रासायनिक तरीके से बनी होती है यह कीटनाशक फसलों से होते हुए पौधों के अंदर चले जाते हैं जिससे कि कीटनाशक प्रभाव खाद्य पदार्थ में भी आ जाते हैं ऑर्गेनिक खेती में रासायनिक कीटनाशक का उपयोग नहीं किया जाता इसकी लिए नीम, गोमूत्र, लहसुन जैसे पदार्थों का उपयोग किया जाता है नीम के बीज ,पता और तन्ना में एंटीबैक्टीरियल एंटीवायरस और एंटीसेप्टिक गुण पाया जाता है इसके लिए इसके भागों को उपयोग कर कीटनाशक दवाई बनाई जाती है

  • लहसुन में एंटीबैक्टीरियल और एंटीवायरल गुण पाया जाता  इसलिए इसका उपयोग कीटनाशक बनाने में किया जाता है
  • गाय के मूत्र में कीटनाशक गुण पाया जाता है इसके लिए उचित मात्रा में इसका घोल निर्मित कर पौधों में छिड़का जाता है

ऑर्गेनिक खेती के फायदे

आमतौर पर आजकल कृषक भाई बंधु अपने खेतों में अधिक उत्पादन हेतु रासायनिक कीटनाशक खाद और पोषक पदार्थों के ऊपर निर्भर है जिससे कि यह सभी रासायनिक पदार्थ खाद्य जाल और खाद्य तंत्र की प्राथमिक घटक के अंदर पहुंचकर उसमें रासायनिक परिवर्तन कर देते हैं या यह सभी भोज्य पदार्थ के अंदर चले जाते हैं 

जिससे कि इस से निर्मित भोज्य पदार्थों की सेवन करने से जीव जंतुओं में कई प्रकार की बीमारियां और विकृति आते हैं इन सब से बचने के लिए ऑर्गेनिक खेती का उपयोग किया जाना बहुत आवश्यक है इससे होता यह है कि खाद्य जाल और खाद्य तंत्र में रसायनिक विषाक्त पदार्थ नहीं खुश पाते और हमें पूरी तरह से ऑर्गेनिक खाद्य पदार्थ मिलता है जिससे कि हमारे शरीर पर कोई विपरीत प्रभाव नहीं पड़ता और हम सदा स्वस्थ रहते हैं

CONCLUSION -ऑर्गेनिक खेती क्या है

इस प्रकार के खेती में हमारे द्वारा पूरी तरह से आर्गेनिक पदार्थ का उपयोग किया जाता है जिससे हमारी फसलों कोअच्छी तरह से पोषण और रोगो से मुक्ति मिलती है जिसका उपयोग करने पर हमे कोई प्रभाव नहीं पड़ता ,इसलिए हमे कोसिस करना चाहिए की हम ऑर्गेनिक खेती ही करे

” ऑर्गेनिक खेती क्या है ” के बारे आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कृपया comment box में जरूर क्वेश्चन पूछे हमें आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा, आप हमारे वेबसाइट vigyantk.com पर यू ही आते रहे जहाँ पर हम विज्ञान , प्रोद्योगिकी, पर्यावरण औऱ कंप्यूटर जैसे विषयो पर जानकारी साझा करते है

Share this

Leave a Comment