मलेरिया रोग किससे फैलता है |  मलेरिया टेस्ट – Malaria Test in Hindi

मलेरिया रोग किससे फैलता है

मलेरिया रोग का वाहक एक मच्छर होता है जिसको मद इन ए ब्रिज कहा जाता है यह मच्छर जब किसी मलेरिया पॉजिटिव व्यक्ति को कटता है तब व्यक्ति के शरीर में उपस्थित मलेरिया परजीवी मच्छर के अंदर प्रवेश कर जाता है यह मच्छर जब किसी स्वस्थ व्यक्ति को कटता है तब वह मलेरिया परजीवी मच्छर के पेड़ से होते हुए स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में चला जाता है और शरीर में इन्फेक्शन फैलता है जिसकी वजह से स्वस्थ व्यक्ति भी मलेरिया पॉजिटिव हो जाता है

मलेरिया रोग का कारक क्या है

मलेरिया परजीवी एक फोटो जो है एक प्रोटोजोआ है जो रक्त संचार के माध्यम से शरीर में फैला है यह परजीवी लाल रक्त कणिकाओं पर हमला करता है और उसे खाने लगता है की वजह से शरीर में लाल रक्त कणिकाओं की संख्या में काम होने लगती है जिसकी वजह से शरीर प्रभावित होने लगती है और व्यक्ति बीमार हो जाता है

मलेरिया रोग का लक्षण क्या है

मलेरिया रोग से प्रभावित व्यक्ति जब रात को सोता है तब उसे ठंड के साथ कप कपी लगती है जिसकी वजह से तबीयत और ज्यादा खराब हो जाता है और शरीर में बुखार के साथ-साथ हाथ पैर की जोड़ में दर्द भी होता है जिसकी वजह से पूरा शरीर कमजोर हो जाता है

मलेरिया रोग का पहचान कैसे करे

मलेरिया के लक्षण इसकी पहचान हो जाती है किंतु कंफर्म करने के लिए ब्लड टेस्ट बहुत ज्यादा जरूरी है इसमें व्यक्ति के उंगली से खून लेकर उसका लैब में टेस्ट किया जाता है और देखा जाता है कि मलेरिया पाल परजीवी है कि नहीं यदि रोगी के रक्त सैंपल में मलेरिया परजीवी दिखाई देता है तब व्यक्ति मलेरिया पॉजिटिव हो जाता है

मलेरिया रोग का इलाज कैसे किया जाता है

मलेरिया का इलाज एलोपैथी में प्राइमरी क्वीन और क्लोरोफिल की दवाई से किया जाता है किंतु इसके लिए आपको डॉक्टर सलाह की जरूरत होती है इन दोनों दवाई की मात्रा बॉडी की वेट के अनुसार से निर्धारित होती है 

मलेरिया रोग से कैसे बचे 

मलेरिया रोग एक प्रकार का संक्रामक रोग है जिसका अगर समय रहते उपचार में किया जाए तो गंभीर समस्या हो सकती है इसके लिए निम्न तरीके उपयोग में ले जाते हैं

  • सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करना चाहिए
  • गंदी नालियों को ढक कर रखना चाहिए
  • घर के आसपास पानी की गड्ढे नहीं होना चाहिए
  • यदि पानी के छोटे-मोटे नाली हो तो उसे पर मिट्टी तेल डाल देना चाहिए
  • बड़ी और खुली नालियों पर गैंबुजिया मछली परत सकता है जो कि मच्छरों की अंडों और मच्छरों की लार्वा को खाकर उनको नियंत्रित कर सकता है
  • घर के आसपास कूड़ा करकट नहीं रखना चाहिए
  • यदि घर में कबाड़ की वस्तुएं हैं तब उनका साफ सफाई करना ज्यादा जरूरी होता है क्योंकि मच्छर ऐसी ही जगह पर रहते हैं 
Share this

Leave a Comment