Hope spot क्या है | mission blue-सालविया अर्ल

Hope spot क्या है

Hope spot समुद्र के भीतर पाए जाने वाली ऐसी जगह होती है जहां पर समुद्री जीवों और समुद्री वनस्पतियों को विशेष संरक्षण की आवश्यकता होती है इन विशेष प्रकार की स्थान को चिन्हित कर उनका संरक्षण का कोशिश किया जाता है इसके अंतर्गत वे

सभी स्थान भी आते हैं जो पहले से ही सुरक्षित थी किंतु इस उद्देश्य के तहत उनकी कुछ हिस्सों को दोबारा सुरक्षित करने का प्रयास किया जाता है

Hope spot की अवधारणा किसने दी

सन 2009 में  मिशन ब्लू के तहत प्रसिद्ध अमेरिकी वैज्ञानिक सालविया अर्ल ने प्रकृति संरक्षण को गंभीरता से लेते हुए समुद्री जैव विविधता और समुद्र जीव व वनस्पतियों की संरक्षण के लिए इंटरनेशनल कंजर्वेशन फॉर नेचर के साथ मिलकर संयुक्त रूप से Hope spot की संकल्पना को प्रतिपादित किया

  • सन सितंबर 2016 तक कुल Hope spot की संख्या 76 हो गई है जिनमें से 14 नए Hope spot है
  • भारत में Hope spot मिशन के तहत अंडमान निकोबार दीप समूह और लक्षद्वीप को शामिल किया गया है

अन्य भी पढ़े

..

Share this

Leave a Comment