नार्मल डिलीवरी में टांके क्यों आते हैं | एपिसियोटमी क्या है 

नार्मल डिलीवरी में टांके क्यों आते हैं

नार्मल डिलीवरी में, टांके या एपिसियोटमी एक चिकित्सा प्रक्रिया होती है जो बच्चे के जन्म के दौरान मां की योनि कट कर योनि द्वार  को बढ़ा देती है। जिससे बच्चा आसानी से योनि द्वार से बाहरआ  पाता है 

 डिलीवरी में जब मां का  योनि फ़ैल नहीं पाता  या  बच्चे का सिर योनि में से बाहर नहीं आ रहा है। तब  एपिसियोटमी किया जाता है 

डिलीवरी के दौरान डॉक्टर मां के योनि में एक छोटी सी कटाव करते हैं, जिससे ज्यादा खून निकलने लगता है और योनि का  चौड़ाई बढ़ जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान, बच्चे का सिर योनि के मुख तक पहुंचता है और बच्चा जन्म लेता है। इस प्रक्रिया के बाद योनि को काटकर बनाया गया द्वार को  , टांके से  फिर से सीमित किया जाता है 

 इस प्रक्रिया के बाद, मां को एक अवधि के लिए अस्पताल में रखा जाता है ताकि डॉक्टर उनकी सेहत का ध्यान रख सकें


” नार्मल डिलीवरी में टांके क्यों आते हैं ” के बारे आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कृपया comment box में जरूर क्वेश्चन पूछे हमें आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा, आप हमारे वेबसाइट vigyantk.com पर यू ही आते रहे जहाँ पर हम विज्ञान , प्रोद्योगिकी, पर्यावरण औऱ कंप्यूटर जैसे विषयो पर जानकारी साझा करते है

Share this

Leave a Comment