ईकोटोन प्रजाति क्या है | Ecotone Hindi me

ईकोटोन प्रजाति क्या है

जब किसी क्षेत्र में कोई ऐसा जीव जंतु या पौधा पाया जाता है जिसकी वजह से उस क्षेत्र के सभी जीव जंतु उस खास जगह पर आकर्षित होकर आते हैं तो अब तब वह  प्रजाति इकोटोन प्रजाति कहलाती है

हाय दोस्तों कैसे हैं आप लोग सब लोग, जब बात आती है जैव विविधता की ( जैव विविधता क्या है ) तब उसमे एक शब्द ईकोटोन की बात किया जाता है.जिसके बारे में हमें जानना बहुत जरूरी है तो आज हम अपनी पोस्ट में बताएंगे कि ईकोटोन प्रजाति क्या है चलिए विस्तार से जानते हैं

ईकोटोन प्रजाति क्या है-समझाइए

कोई खास प्रकार की प्रजाति जिसकी वजह से उसके द्वारा अनेक प्रकार के जीव जंतु को को अपनी ओर आकर्षित करने के कारण वह खास स्थान जैव विविधता का  समृद्ध इलाका हो जाता है या जीव जंतुओं की जनसंख्या बहुत बढ़ जाती है तब वह प्रजाति को ईकोटोन प्रजाति कहा  जाता है

ईकोटोन शब्द कि अगर विवेचना करें तब इसका एहसास होगा कि जैव विविधता में  जातिगत और जनसंख्या में विविधता और रिचेस्ट बढ़ाने वाला वाला शब्द है

इकोटोन की विशेषताएं

वेस्टर्न घाट पर एक पेड़ पाया जाता है जिसका नाम डूरियन है जिसमें मीठे फल पाए जाते हैं इन फलों को खाने के लिए अनेक प्रकार के पक्षी और शाकाहारी जीव जंतु आते हैं

इनकी वजह से वह जो पेड़ होता है उस स्थान पर जानवरो का चहल-पहल बढ़ बढ़ जाता है आने वाले जीव जंतुओं में बंदर, लंगूर, हिरण जंगली सूअर, जंगली गाय इत्यादि अनेक प्रकार की शाकाहारी जंतु आते है उस फल का मीठे स्वाद के आनंद लेने के लिए उस स्थान पर

 किंतु ऐसे जीव जंतुओं के अलावा अनेक  प्रकार के पक्षी भी आते हैं जैसे कि मोर ,तोते और भी दूसरी पक्षि

और यह जो डूरियन वृक्ष अपने प्रभाव के कारण ईकोटोन प्रजाति कहा जाएगा क्योंकि इसके कारण उन शाकाहारी जीव जंतु से आकर्षित होकर और भी कई प्रकार के अन्य शाकाहारी और मांसाहारी जीव जंतु वहां पर आ जाते हैं जिसकी वजह से एक छोटी सी खास इलाके में अधिक मात्रा में जीव जंतु पाए जाते हैं

 जोकि जैव विविधता का एक उदाहरण है इसके अलावा आपने मूंगा चट्टान के बारे में सुना होगा यह मूंगा चट्टान भी अपने आप में इकोटोन क्षेत्र होते हैं

जहां पर समुद्र में मूंगा चट्टाने पाई जाती है वहां पर अधिक मात्रा में समुद्री वनस्पति और समुद्री जीव जंतु पाए जाते हैं एक तरफ से मूंगा चट्टा समुद्री जैव विविधता को बढ़ाते हैं क्योंकि इसी प्रकार का प्रभाव डूरियन वृक्ष भी डालता है जैसे कि मूंगा चट्टान अपने इकोनामिक क्षेत्र में डालता है

ईकोटोन क्या है-ईकोटोन क्षेत्र क्या है

जब किसी स्थान पर ईकोटोन प्रजातियों की संख्या थोड़ी ज्यादा बढ़ जाती है तब वह खास क्षेत्र की ईकोटोन क्षेत्र कहा जाता है क्योंकि उसकी वजह से ईकोटोन छेत्र थोड़ा बढ़ जाता है और जीव जंतुओं में पारस्परिक क्रिया को बढ़ाता है, जिससे कि उनकी आवास और भोजन की मांग दूर होती है

ईकोटोन प्रजाति का महत्व

ईकोटोन प्रजाति इकोसिस्टम पर बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखता है इसकी वजह से जीव जंतुओं में आपसी एक्टिविटी बढ़ती है

  •  पारिस्थितिक क्षेत्र में प्राथमिक उत्पादकता बढ़ाता है
  • जीव जंतुओं को भोजन और आवास प्रदान करता है
  • जय विविधता को बढ़ाता है

Conclusion -ईकोटोन प्रजाति क्या है

तो दोस्तों आज हमने आपको बताया है कि ईकोटोन प्रजाति और ईकोटोन क्षेत्र क्या होता है , आमतौर पर देखा जाता है यह सभी कारक पारिस्थितिक तंत्र के घटक है जिससे पारिस्थितिक तंत्र में उत्पादकता और आवास की कमी दूर होती है, इसकी वजह से जैव विविधता प्रत्यक्ष रूप से प्रभावित होती है

 जहां पर ईकोटोन प्रजाति पाया जाएगी वहां पर जैव विविधता भी बढ़ने की चांस  होगी इसके अलावा वह इलाका प्राकृतिक रूप से बहुत धनवान  इलाका होगा, जिसकी वजह से वह पूरा क्षेत्र प्रकृति पर अपना विशिष्ट छाप छोड़ेगा और अपनी अलग पहचान बनाएगा

 इस प्रकार का इको तंत्र का उदाहरण है वेस्टर्न घाट में उपस्थित डूरियन नामक वृक्ष, इसके अलावा समुद्र में पाए जाने वाले मूंगा चट्टान भी इकोटेन क्षेत्र का अच्छा उदाहरण है

 तो दोस्तों अब तो आपको पता चल गया होगा कि ईकोटोन क्षेत्र क्या होता है और ईकोटोन प्रजाति क्या है

इसी प्रकार के अन्य जानकारी के लिए आप हमारे blog पर नियमित आते रहे और कुछ नया सीखते रहें आप इस टॉपिक से रिलेटेड अन्य क्वेश्चन भी पूछ सकते हैं हमें आपका प्रश्नों का इंतजार रहेगा धन्यवाद

आप अपने ब्रॉउज़र में vigyantk.com सर्च कर सीधे हमारे वेबसाइट पर आ सकते है, जो खास तौर पर विज्ञानं- प्रोद्योगिकी-कंप्यूटर -पर्यावरण जैसे विसयों पर फोकस करती है,हमारा उदेश्य है की हम हिंदी भाषा में अपने पाठको को वैल्युएबल कंटेंट उपलब्ध करवाये

पुनः अवश्य पधारे  

और भी पढ़े >

Share this

Leave a Comment

Don`t copy text!