स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं | स्वप्रतिरोधकरता के प्रभाव

स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं-ह्यूमन बॉडी में स्वप्रतिरोधकरता एक प्रॉब्लम होती है जिससे बॉडी में बहुत गहरा इफ़ेक्ट पड़ता है ,तब इसके बारे में जनना बहुत जरुरी हो जाता है -की स्वप्रतिरोधकरता क्या है और स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं चलिए स्वप्रतिरोधकरता के बारे में विस्तार से जानते है

स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं ( auto immunity kya hai )

जब किसी ह्यूमन या किसी जीव में अपनी ही शरीर के अंदर की विशेष  अंगों या रचनाओं के प्रति प्रतिरोध या टकराव उत्पन्न हो जाए जिससे शरीर की बहुत सारे काम प्रभावित होते है जिससे बॉडी में नेगेटिव प्रभाव पड़ता है  तब इसे  इसे स्व प्रतिरोधकता  ( auto immunity )कहा जाता है

स्वप्रतिरोधकरता से क्या प्रभाव पड़ता है

ऑटोइम्यूनिटी से शरीर के अंदर कई प्रकार की बीमारियां उत्पन्न होती हैं इसके अलावा शरीर में कई सारे अंगों की कार्य करने की क्षमता और एक्टिविटी भी प्रभावित होती हैं और कभी कभी  किसी व्यक्ति की शरीर इससे बहुत जादा प्रभाव भी होता है जिससे इंसान की मृत्यु भी हो जाती है 

चलिए स्वप्रतिरोधकरता से क्या क्या प्रभाव पड़ता है जानते है

उदाहरण 1

  यदि हमारे शरीर पर उपस्थित लाल रक्त कणिकाओं के विरुद्ध ऑटोइम्यूनिटी पैदा हो जाए तब रक्त कणिकाओं में उपस्थित आरबीसी रक्त के अंदर से खत्म हो जाएगा या उसकी संख्या कम हो जाएगी जिसके कारण शरीर के अंदर एनीमिया उत्पन्न हो जाएगा और इसके बाद इस शरीर के अंगों में ऑक्सीजन पहुंचाने में व्यवधान उत्पन्न होगा जिसके कारण शरीर बहुत ज्यादा कमजोर हो जाएगा

उदाहरण 2

हमारे शरीर में उपस्थित यकृत बहुत सारे कामों को करता है और शरीर में उसका विशेष स्थान होता है अगर उस लीवर के प्रति हमारे शरीर में प्रतिरोधकता उत्पन्न हो जाए तब क्या होगा पहली बात तो यह है कि लीवर द्वारा  पाचक रस का स्त्राव किया जाता है जो कि भोजन के बचाने के लिए बहुत जरूरी है अगर प्रतिरोधकता उत्पन्न हो जाता है तब भोजन के पाचन के लिए पाचक रस उत्पन्न नहीं हो पाएगा और दूसरी बात लिवर में बहुत सारी बीमारियां भी होती है जिसे हेपिटाइटिस कहा जाता है इसके कारण शरीर में और अन्य बीमारी भी उत्पन्न होने लगती हैं

A4
class="wp-block-heading">Conclusion- स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं( auto immunity kya hai  )

हमारे शरीर में बहुत सारे रोग होते रहते हैं इनमें से ऑटोइम्यून डिसीसिस भी प्रमुख है जोकि शरीर की स्वप्रतिरोधकता के कारण उत्पन्न होते हैं इसके कारण हमारे शरीर पर कई प्रकार के रोग उत्पन्न होते हैं इसके अलावा शरीर के अंगों की कार्य पद्धति भी प्रभावित होती है यह पोस्ट स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं उम्मीद है आपको पसंद आएगी

” स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं ” के बारे आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कृपया comment box में जरूर क्वेश्चन पूछे हमें आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार रहेगा, आप हमारे वेबसाइट vigyantk.com पर यू ही आते रहे जहाँ पर हम विज्ञान , प्रोद्योगिकी, पर्यावरण औऱ कंप्यूटर जैसे विषयो पर जानकारी साझा करते है

स्वप्रतिरोधकरता किसे कहते हैं

बॉडी में अपने ही अंगो के प्रति प्रतिरोध को स्वप्रतिरोध कहा जाता है

स्वप्रतिरोधकरता से क्या प्रभाव पड़ता है

इससे बॉडी के अंदर कई प्रकार के दोस उत्पन्न हो जाता है

Share this
x
A3

Leave a Comment

Don`t copy text!